चैत्र नवरात्र 28 मार्च से 5 अप्रैल तक

0
175

पं. गणपति झा

नई दिल्ली, चैत्र और आश्विन माह की शुक्ल प्रतिपदा से नवमी तक चलने वाले नवरात्र ही ज्यादा लोकप्रिय हैं जिन्हें मां भगवती की आराधना के लिए श्रेष्ठ माना जाता है।वर्ष 2017 में चैत्र नवरात्र 28 मार्च से 5 अप्रैल तक रहेंगें। धर्म ग्रंथों, पुराणों के अनुसार चैत्र नवरात्रों का समय बहुत ही भाग्यशाली बताया गया है।

संवत्सराम्भ एवं पक्षारम्भ 29 मार्च 2017 दिन बुधवार को ही प्रतिपदा में द्वितीया तिथि का क्षय हो रहा है।  28 मार्च 2017 दिन मंगलवार को दिन में 08 बजकर 14 मिनट पर प्रतिपदा तिथि लग रही है जो अगले दिन सुबह 06:32 बजे तक रहेगी, इसके बाद रात 04:34 बजे तक द्वितीया तिथि होगी। पहले दिन घटस्थापना का मुहूर्त सुबह 06:32 से पूर्व अति उत्तम होगा। विकल्प के रूप में अभिजीत मुहूर्त्त मध्यान्ह 11:35 बजे से 12:23 तक रहेगा। इस प्रकार प्रतिपदा 28 मार्च को दिन में 8 बजकर 26 मिनट पर शुरु होगी। 5 अप्रैल 2017 दिन बुधवार को दोपहर दिन में 12:50 बजे तक ही नवरात्र होगा, उसके बाद दशमी तिथि लग जाएगी। साथ ही इस दिन प्रभु श्री राम की जयतीं यानी रामनवमी भी मनाई जायेगी।  ऐसे समय में मां भगवती की पूजा कर उनसे सुख-समृद्धि की कामना करना बहुत शुभ माना गया है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY