केंद्रीय कर्मचारी का सातवें वेतन आयोग के खिलाफ कृृषि भवन के आगे प्रदर्शन

नई दिल्ली, केंदी्रय कर्मचारी सातवें वेतन आयोग के विसंतियों को लेकर कृषि भवन के सामने जबर्दस्त प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों का कहना था कि हमलोग चैथे दिन निर्णायक प्रदर्शन कर चुके हैं, इसके वावजूद सरकार की तरफ से किसी भी तरह का आश्वासन नही मिला है। उनका कहना था कि प्रदर्शन का नजरअंदाज किया जा रहा है जो सरकार के हित में नही है। यदि समय रहते इसका निदान नही निकाला गया तो विभिन्न कर्मचारी संगठन आक्रामक रूख अख्तिार करेगी। इसलिए सरकार से मांग है वेतन विसंगतियों को जल्द दूर करे।
सीएसएसएस के महासचिव कहना है कि सातवें वेतन आयोग के वेतन की तुलना उपरोक्त संगठन के कर्मचारी और आयकर एवं विक्रीकर के पदस्थापित कर्मचारी के साथ किया जाए काफी अंतर है। उनका कहना था कि आखिर सरकार के सामने क्या मजबूरी थी कि वेतनामान में विसंगति किया गया? क्या सरकार की यही अच्छा दिन है कि कर्मचारी के बीच फूट डाला जाए। मगर इतना तय है कि हम लोग न आपस में फूट पड़ने देंगे साथ में वेतन विसंगति को दूर करवाएगे। गौरतलब है कि पिछले कई दिनों से केंद्रिय सचिवालय सर्विस फोरम के वैनर तले सीएसएसएस,सेट्रल सेक्रिटियएट नन गजेटेड एसोसिएशन, परमोटी एसोसिएशन, आरबीएसएस और दिल्ली सरकार के आॅफिसर फेडरेसन समेत कई संगठनो ने कई स्थानों आगे जबर्दस्त प्रदर्शन कर चुका है। मगर मामला जस की तस बनी हुई है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY